मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार लिख रहा तरक्की की नई इबारत- ओमप्रकाश सेतु

पटना (जागता हिंदुस्तान) युवा जनता दल यू के प्रदेश प्रवक्ता ओमप्रकाश सिंह सेतु ने कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार आज हर क्षेत्र में प्रगति की नई इबारत लिख रहा है। उद्योगों को बढ़ावा देने, बोरोजगारो को काम देने, कृषि क्षेत्र में बिहार को आत्मनिर्भर बनाने के साथ ही शिक्षा की बुनियाद को मजबूत करने के लिए सरकार ने पिछले 15 वर्षों में अनेक ऐसे कार्य किये हैं जो आज मील का पत्थर साबित हो रहे हैं।

युवा जदयू प्रवक्ता ने कहा कि 2005 के पहले बिहार की लालू-राबड़ी की सरकार में राज्य में शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो गयी थी। बच्चों की गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने की बजाय तत्कालीन सरकार राज्य में चरवाहा विद्यालय खोल शिक्षा का माखौल उड़ा रही थी। 2005 में बिहार की सत्ता पर आने के साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने शिक्षा में सुधार के लिए व्यापक कार्य किये। उन्होंने कहा कि 2005 के पहले राज्य के 13 प्रतिशत बच्चे स्कूल के बाहर थे। आज एक फीसदी से भी कम बच्चे स्कूल से बाहर हैं। सरकार ने बच्चों के लिए स्कूल चलो कार्यक्रम शुरु किया और उसे सफलता के मुकाम पर पहुंचाया।

सेतु ने कहा कि स्कूल चलो कार्यक्रम में 3.70 लाख बच्चे, प्रयास केंद्र के माध्यम से 12 लाख बच्चे, मकतब मदरसा नवाचारी केंद्र के माध्यम से अल्पसंख्यक मुसलिम समुदाय के लगभग 1.41 लाख बच्चे, तालीमी मरकज केंद्र के माध्यम से 85 हजार बच्चे, उत्थान केंद्र के माध्यम से महादलित समुदाय के लगभग छह लाख बच्चे एवं उत्प्रेरण केंद्र के माध्यम से लगभग 3.77 लाख बच्चे को मुख्य धारा से जोड़ा गया। 2018-19 में दो करोड़ बच्चों को पोशाक और पुस्तकें दी गईं। 2007-08 से 2019-2020 तक 45 लाख लड़कियों को साइकिल दी गयी। 2009-10 से अब तक नौवें वर्ग के 41लाख छात्रों को साइकिल योजना का लाभ दिया गया। एक करोड़ से अधिक बच्चों को आज मिड डे मिल दिया जा रहा है। शिक्षकों की संख्या 2005 में 2.8 लाख थी, अब शिक्षकों की संख्या 4.70 लाख हो गयी है।

युवा जदयू प्रवक्ता ने कहा कि पिछले एक दशक में बिहार में साक्षरता वृद्धि की दर 17 प्रतिशत हो गयी है। आज बिहार में साक्षरता का प्रतिशत 63.8 तक पहुंच चुका है। आज बिहार में बजट का 21 फीसदी से ज्यादा हिस्सा बिहार सरकार शिक्षा पर खर्च करती है। यानी करीब 33000 करोड़ रुपये शिक्षा पर खर्च हो रहे हैं।

ओमप्रकाश सिंह सेतु ने कहा की आज शिक्षा से सुशासन के आंगन में बेहतर और नया बिहार बन रहा है। यह सब माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सोच और उसे अमलीजामा पहनाने से संभव हो पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *