भाजपा-जदयू को PK की बातों को स्वीकार करना चाहिए- गगन

पटना (जागता हिंदुस्तान) राजद के प्रदेश प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा है कि भाजपा-जदयू नेताओं को जदयू के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर द्वारा कही गई बातों पर आग-बबूला होने के बजाय उन्हें उसे शालीनतापूर्वक स्वीकार करना चाहिए।

राजद नेता ने कहा है कि प्रशांत किशोर नीतीश कुमार अथवा सरकार पर कोई आरोप न लगाकर जो सच्चाई है उसे ईमानदारीपूर्वक रखने का काम किया है। प्रशांत किशोर जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहे हैं और 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं बाद के दिनों में नीतीश कुमार के रणनीतिकार भी रहे हैं। जदयू के कई नेताओं के नाराजगी के बावजूद नीतीश कुमार सार्वजनिक मंच से प्रशांत किशोर के साथ अपने संबंधों का उल्लेख कर चुके हैं। इसलिए वे नीतीश कुमार के चरित्र को अच्छी तरह से जानते हैं। साथ हीं उन्हें अपने स्रोत से एवं एक बिहारी होने के नाते बिहार की जो जमीनी हकीकत है उसकी जानकारी भी उन्हें है। और उसी के आधार पर उन्होंने सरकार और नीतीश कुमार का मूल्यांकन किया है। इस पर भाजपा और जदयू नेताओं को आक्रोषित न होकर जमीनी हकीकत को शालीनतापूर्वक स्वीकार करना चाहिए।

राजद नेता ने कहा है कि सच्चाई यह है कि पीके ने नीतीश जी के चरित्र और सरकार की उपलब्धियों को आंशिक रूप से हीं व्यक्त किया है। जबकि एनडीए शासनकाल में बिहार की स्थिति हर क्षेत्रों में उससे भी ज्यादा भयावह और बदतर हो चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *