Lockdown : वर्तमान में केंद्र सरकार द्वारा विदेशों को गेहूं का निर्यात ठीक नहीं- उपेंद्र कुशवाहा

पटना (जागता हिंदुस्तान) कोरोना महामारी को लेकर देशभर में लॉक डाउन जारी है। दिहाड़ी मजदूरों और गरीबों को खाने पीने की जबरदस्त परेशानियों से गुजरना पड़ रहा है। ऐसे में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा विदेशों को गेहूं निर्यात करने के फैसले पर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने बड़ा सवाल खड़ा किया है।

कुशवाहा ने कहा है कि कोरोना और लॉक डाउन के कारण भारत में 20 करोड़ किसान मजदूर परिवारों के घर में अनाज की अनुपलब्धता रहने की संभावना है। वर्तमान में लोग भुखमरी के शिकार हो ही रहे हैं। ऐसे में नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा विदेशों को गेहूं का निर्यात ठीक नहीं। कृपया पुनर्विचार करें।

बता दें कि कुछ देशों की मांग को देखते हुए सरकार ने उन्हें गेहूं के निर्यात का फैसला किया है। इसके तहत 50 हजार टन गेहूं का निर्यात अफगानिस्तान और 40 हजार टन गेहूं का निर्यात लेबनान को किया जाएगा।

निर्यात का यह सौदा दोनों देशों की सरकारों के बीच हुआ है। लिहाजा इसके लिए कोई टेंडर की प्रक्रिया नहीं अपनाई जाएगी। निर्यात की जिम्मेदारी नेफेड को सौंपी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *