अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की CBI जांच की मांग, पटना सहित पूरे बिहार में निकाला मार्च

पटना (जागता हिंदुस्तान) दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय मौत की सीबीआई से जांच कराने की मांग को लेकर राजधानी पटना सहित बिहार के सभी प्रमंडल, जिला और प्रखंड मुख्यालयों में शांतिपूर्ण मार्च व प्रदर्शन आयोजित किया गया। आज बिहार में 250 से ज्यादा स्थानों पर तय समय पर एक साथ हीं दिवंगत अभिनेता के फैन्स और युवाओं ने शांतिपूर्ण तरीके से मार्च आयोजित कर सीबीआई जांच की मांग को लेकर हुंकार भरी। बिहारी सपूत व बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय मौत की सीबीआई से जांच कराए जाने संबंधित मांग पत्र भी देश के महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री, बिहार के राज्यपाल व मुख्यमंत्री को भेजा।

पटना में आयोजित मार्च में सैकड़ों युवाओं ने नारे लिखी हुई तख्तियां को हाथों में लेकर प्रदर्शन किया। नारों में जिसकी प्रमुखता रही वो था- #No CBI #No Vote

इस अवसर पर प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हम सभी बिहारवासी दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के रहस्यमय मौत की CBI से जाँच कराने की माँग को लेकर शांतिपूर्ण मार्च कर रहे हैं जिसका एक ही मकसद है कि अभिनेता की रहस्यमय मौत का पर्दाफाश हो सके जो बिना सीबीआई जांच के संभव नहीं दिख रहा है। हमसबों ने आज के मार्च के माध्यम से बिहार और देश की सरकार को बताना चाहते हैं कि जब तक अभिनेता सुशांत की मौत की सीबीआई जांच नहीं होती तब आंदोलन व प्रदर्शन अनवरत जारी रहेगा। दिवंगत अभिनेता सुशांत को चाहने वाले हमसभी बिहारवासी सीबीआई से जांच कराने संबंधी मांग पत्र को देश के महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के अलावे बिहार और महाराष्ट्र सरकार को भी भेजा है। हमसबों को भरोसा है कि सरकार हमारी मांगों पर ध्यान देते हुए सीबीआई जांच करायेगी और यदि ऐसा नहीं हुआ तो फिर हमसभी बिहारी उग्र आंदोलन करेंगे जिसका खामियाजा राज्य व देश की सरकारों को आने वाले चुनाव में भुगतना पड़ेगा।

बता दें कि बीते14 जून को मुंबई में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत जो अभी तक रहस्यमय ही बनी हुई है जिससे दिवंगत अभिनेता के स्वजन और परिजन से लेकर आमजन तक मे रोष व क्षोभ व्याप्त है।

राष्ट्रपति व अन्य को भेजे अपने मांग पत्र में दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की विस्तृत चर्चा करते हुए कहा है कि ‘बिहार’ के सपूत के साथ-साथ 34 वर्ष की अल्पायु में ही अपनी प्रतिभा और काबिलियत की बदौलत लगातार कई सफल टीवी सीरियल और फिल्मों से अभिनय के क्षेत्र में उभरते हुए चर्चित सीने स्टार हो चुके थे। इतना ही नहीं मांग पत्र में दिवंगत अभिनेता के शैक्षणिक योग्यता व स्तर की भी विस्तार से चर्चा करते हुए कहा गया है कि प्रतिभाशाली अभिनेता की मौत को ‘आत्महत्या’ कहा जा रहा है जो हम सभी बिहारवासी को गले नहीं उतर रहा है और संदेहास्पद भी लगता है इसलिए कि जो इंसान मेधावी व प्रतिभाशाली के साथ-साथ अभी तक विज्ञान की दुनिया से मतलब रखता हो वो आत्महत्या नहीं कर सकता? ऐसी स्थिति में खासकर हमसभी बिहारवासियों का नैतिक कर्तव्य भी बनता है कि अपने बिहार की मिट्टी का लाल दिवंगत अभिनेता स्व. सुशांत सिंह राजपूत जैसे बिहार के सपूत की मौत का रहस्य हमसबों को मालूम हो क्योंकि आम जनता महसूस कर रही है कि आत्महत्या या साजिशन हत्या का उद्भेदन जरूरी है इसके लिए CBI जाँच करवाना समय की माँग है। इस दिशा में सार्थक पहल करते हुए दिशा-निर्देश दिये जाने की मांग की गई है। जिससे दिवंगत अभिनेता की मौत का पर्दाफाश हो सके।

आज का मार्च मुख्य रूप से पटना के अलावे मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, शिवहर, समस्तीपुर, दरभंगा, मुंगेर, खगड़िया, सहरसा, जमुई, बाँका, भागलपुर, कटिहार, मधेपुरा, शेखपुरा, आरा , रोहतास , सासाराम, कैमूर, औरंगाबाद, गया, नालंदा , वैशाली सहित प्रमुख शहरों में हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *