लॉकडाउन में लौटे 5 लाख से अधिक प्रवासियों को सरकार ने दिया काम- ओमप्रकाश सेतु

पटना (जागता हिंदुस्तान) युवा जनता दल (यू) के प्रदेश प्रवक्ता ओमप्रकाश सिंह सेतु ने रोजगार को लेकर सवाल खड़े करने वाले लोगों से कहा है कि राज्य सरकार सिर्फ मनरेगा के अंतर्गत रोज 12 लाख से अधिक श्रमिकों को काम दे रही है। अकेले लॉकडाउन में बिहार लौटने वाले पांच लाख बीस हजार प्रवासियों को अबतक राज्य में निबंधन कर रोजगार दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सिर्फ लॉक डाउन की अवधि में चार करोड़ दो मानव दिवस का सृजन किया गया है।

सेतु ने कहा राज्य की नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार का नजरिया न्याय के साथ विकास का रहा है। सरकार एक ओर रोजगार की व्यवस्था कर रही है तो दूसरी ओर ‘मुख्यमंत्री की सात निश्चय योजना’ से राज्य के विकास के लिए जो कार्य किये गए हैं उनकी उपलब्धियों की चर्चा पूरे देश मे हो रही है। सात निश्चय योजन के तहत सुदूर ग्रामीण क्षेत्रो तक हर घर बिजली पहुंचाई गई। हर घर नल का जल योजना से एक-एक घर को पीने का पानी पहुँचाया गया। केंद्रीय सहायता के अलावा राज्य सरकार ने अपने संसाधनों से शौचालय निर्माण के लिए राशि मुहैया करा रही है।

उन्होंने कहा कि इसी तरह शिक्षा क्षेत्र में विद्यार्थियों को बढ़ावा देने के लिए कई प्रकार की छात्रवृत्ति योजनाओं का राज्य में संचालन हो रहा है। मेधावी छात्रों को 10 आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड दिए जा रहे है। युवा शक्ति को बढ़ावा देने के लिए नीतीश सरकार संघ लोकसेवा आयोग और बिहार लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास करने वाले आर्थिक रूप से कमजोर तबके के विद्यार्थियों को 50 हजार से एक लाख रुपए तक कि सहायता दे रही है।

ओमप्रकाश सिंह सेतु ने कहा की राज्य के मुखिया नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की की राह पर है। सरकार न्याय के साथ विकास के पथ पर लगातार आगे बढ़ती रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *