बिहार में हो रही नफरत की खेती, भविष्य में कोरोना वायरस से भी होगा खतरनाक- RLSP

पटना (जागता हिंदुस्तान) तबलीगी जमात के लोगों को देखते ही गोली मार देने के जदयू नेता अजय आलोक के बयान के एक हफ्ता से ज़्यादा समय गुजर जाने के बावजूद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार या उनकी पार्टी की ओर से इसके खिलाफ किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं आने को लेकर राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने नाराजगी जताई है।

इस संबंध में रालोसपा के राष्ट्रीय महासचिव फजल इमाम मल्लिक ने कहा है कि एक तरफ कोरोना से लड़ाई जारी है तो वहीं दूसरी तरफ बिहार और देश के कई हिस्सों में नफरत का माहौल भी पैदा किया जा रहा है, जो समाज में एक अलग तरह के वायरस को फैला रहा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से तबलीगी जमात को लेकर जदयू के एक नेता ने बयान दिया है कि इन लोगों को गोली मार देनी चाहिए, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी इसकी कड़े शब्दों में निंदा करती है। किसी व्यक्ति के कारण पूरे समाज को बदनाम नहीं किया जा सकता।

वहीं, फजल इमाम मल्लिक ने कहा कि दिक्कत यह है कि अभी तक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू की ओर से उनके नेता के बयान का खंडन तक नहीं किया गया है। रालोसपा के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि बिहार में जिस तरह से नफरत की खेती चल रही है और समाज में नफरत का बीज बोया जा रहा है, यह आने वाले दिनों में कोरोनावायरस से भी खतरनाक साबित होगा।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय लोक समता पार्टी मांग करती है कि सरकार और प्रशासन ऐसे लोगों पर कड़ी निगरानी रखें। इसके साथ ही मल्लिक ने कहा कि कई इलाकों से यह भी खबर आ रही है कि सब्जी बेचने वाले या दूध बेचने वाले जैसे मुस्लिम समाज के लोगों के साथ मारपीट की जा रही है और उनके कारोबार को खत्म किया जा रहा है। यह मामला भी बिल्कुल सही नहीं है। एक तरफ हम मिलजुल कर कोरोनावायरस से लड़ने की बात कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ नफरत का वातावरण पैदा किया जा रहा है।

रालोसपा नेता ने कहा कि इससे गलत संदेश जा रहा है जिसका असर पूरे समाज पर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कोरोना से तो हम जंग जीत लेंगे, उसे हमारा भी देंगे लेकिन नफरत का जो यह माहौल पूरे देश और बिहार में पनपा है, उस पर हम जल्दी जीत दर्ज नहीं कर पाएंगे। फजल इमाम मल्लिक ने कहा कि राष्ट्रीय लोक समता पार्टी यह मांग करती है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ऐसे तत्वों से सख्ती से निपटें और ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें।

बता दें कि बीते दिनों गाजियाबाद में तबलीगी जमात से जुड़े लोगों द्वारा कथित तौर पर अस्पताल में की गई अश्लील हरकत की घटना का जिक्र करते हुए जदयू नेता अजय आलोक ने कहा था कि ऐसे लोगों के खिलाफ शूट एट साइट का ऑर्डर जारी होना चाहिए, क्योंकि ये लोग देश में मानवता के दुश्मन हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *