जविपा अध्‍यक्ष अनिल कुमार ने किया एकेयू के इंजीनियरिंग छात्रों के सत्‍याग्रह का समर्थन

पटना (जागता हिंदुस्तान) जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अनिल कुमार ने आर्यभट्ट नॉलेज यूनिवसिर्टी प्रशासन पर छात्रों को प्रताडि़त करने का आरोप लगाया। एकेयू विवि कैंपस में तकनीकी छात्र संघ द्वारा आयोजित धरना को समर्थन देने पहुंचे जविपा अध्‍यक्ष ने कहा कि बिहार के विश्‍वविद्यालयों में आज कल शैक्षणिक माहौल पूरी तरह से प्रशासनिक राजनीति की भेंट चढ़ गई है, जिसका शिकार छात्र – छात्राओं को होना पड़ा रहा है। यही वजह है कि आज तकनीकी छात्र संघ के बैनर तले इंजीनियरिंग के छात्र – छात्राएं आज महात्‍मा गांधी के रास्‍ते को अपने कर अपनी जायज मांगों के साथ सत्‍याग्रह को मजबूर हुए हैं।

अनिल कुमार ने कहा कि एकेयू के छात्रों की मांग ज्‍यादा मुश्किल नहीं है, जिसे विवि प्रशासन नहीं पूरी कर सकती। छात्रों की मांग तो शैक्षणिक अनियमितता को समाप्‍त करने की है। यह तो विवि प्रशासन का ही कार्य है। इसलिए विवि प्रशासन अविलंब छात्रों की मांग – ‘परीक्षा की तिथि अविंलब घोषणा, विवि में रिवॉल्‍यूशन रूल को पुन: लागू करना, परीक्षा केंद्र पर छात्राओं के लिए सुरक्षा व अवागमन की सुगम व्‍यवस्‍था, सुरक्षित और सुगम परीक्षा केंद्र पर परीक्षा’ को लागू करे और विवि में अध्‍ययन का माहौल कायम करें। उन्‍होंने तकनीकी छात्र संघ को सत्‍याग्रह पर समर्थन देते हुए ये भी कहा कि अगर विवि प्रशासन जल्‍दी ऐसा नहीं करती है, तो आगे हम एक बड़ा आंदोलन करने को मजबूर होंगे।

इसी बहाने उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर भी हमला बोला और कहा कि नीतीश कुमार खुद भी इंजीनियर हैं, बावजूद इसके अगर वे इन छात्रों की पीड़ा को नहीं समझ रहे हैं, तो यह दुर्भाग्‍यपूर्ण है। आखिर क्‍यों ऐसा है कि बिहार में शिक्षा व्‍यवस्‍था लगातार गर्त में जा रही है, फिर भी सरकार ने आंखें मूंद रखी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *