लाख नाक रगड़ लें मांझी, कुशवाहा और सहनी, तेजस्वी यादव नहीं देंगे विशेष महत्व – जदयू


पटना (जागता हिंदुस्तान) जनता दल यू के प्रदेश प्रवक्ता अरविंद निषाद ने रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा, हम पार्टी के अध्यक्ष जीतन राम मांझी एवं वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी के साथ बैठक करने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि आज बिहार ही नहीं सम्पूर्ण भारत वैश्विक कोरोना महामारी से लड़ रहा है। तेजस्वी यादव के द्वारा महत्व नहीं दिए जाने पर तीनों नेता कोरोना योद्धा बनने के बजाय चुनावी योद्धा बनने में ही अपनी सारी शक्ति का प्रयोग कर रहे हैं।

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि महागठबंधन के भीतर जीतनराम मांझी, उपेंद्र कुशवाहा एवं मुकेश साहनी ने अनेकों बार सार्वजनिक रूप से कहा कि महागठबंधन में समन्वय समिति बनाई जाए लेकिन राजद ने सार्वजनिक रूप से कहा कि जिनको रहना है रहे जिनको जाना है जाय, फिर भी ये तीनो दलों के नेताओं ने राजद को संदेश देने के लिए बैठक का आयोजन किया।

निषाद ने कहा कि लाख ये तीनों दलों के नेता राजद के दरवाजे पर नाक रगड़ ले, लेकिन तेजस्वी यादव के द्वारा विशेष महत्व नही दिया जाएगा।

साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में जिस प्रकार पंचायत स्तर पर कोरेन्टीन सेंटर की स्थापित कर देश के दूसरे हिस्सों से आने वाले मजदूरों को क्वॉरेंटाइन सेंटर में पौष्टिक भोजन एवं अन्य दैनिक उपयोगी सामान दिया जा रहा है, उसकी राष्ट्रीय स्तर पर सराहना हो रही है। मजदूरों को पंचायत स्तर पर स्किल के हिसाब से रोजगार देने के लिए कार्यक्रम बनाया गया है। बिहार सरकार संकट में राज्यवासियों के साथ खड़ी रहती है। आपदा प्रबंधन में बिहार ने राष्ट्रीय स्तर पर विशिष्ट पहचान बनाई है।

बता दें कि मंगलवार को विकासशील इंसान पार्टी के कार्यालय में जीतन राम मांझी उपेंद्र कुशवाहा और मुकेश सहनी ने बंद कमरे में बैठे बैठक की है, जिसकी खबर राजद और कांग्रेस को नहीं दी गई। इस बैठक को बिहार विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है, हालांकि तीनों नेताओं ने इस बात से इनकार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *