जरूर काटनी चाहिए मंत्री चंद्रशेखर की ज़ुबान, भाजपा नेत्री अमृता भूषण ने महंत परमहंस का किया समर्थन

नियाज़ आलम/पटना । ऐसा लगता है कि रामचरित्र मानस को लेकर दिए गए बिहार सरकार में राजद कोटे के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर के मुद्दे को भाजपा किसी भी कीमत पर हाथ से जाने नहीं देना चाहती है। शायद यही वजह है कि अयोध्या के महंत परमहंस द्वारा शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर की जीभ काटने पर 10 करोड़ के इनाम देने जैसी आपराधिक घोषणा का भी भाजपा मुखर होकर समर्थन कर रही है।

इसी क्रम में बिहार भाजपा की प्रदेश मंत्री अमृता भूषण ने भी स्पष्ट रूप से महंत परमहंस द्वारा मंत्री चंद्रशेखर की जीभ काटने पर इनाम देने की घोषणा को सही ठहराया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि जो भी ऐसी गलती करेगा उसकी जुबान काट दी जाएगी।

भाजपा नेत्री ने कहा कि महंत परमहंस ने बिल्कुल सही कहा है। मंत्री चंद्रशेखर ने जो कहा है वह गलती नहीं बल्कि अपराध है और इसके लिए कोई भी हिंदू क्षमा नहीं करेगा।

वहीं, अमृता भूषण ने पूरे मामले को राजनीतिक रंग देते हुए बिहार में महागठबंधन की सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि महागठबंधन पूरी तरह से हिंदू विरोधी हो गया है और उसे हिंदुत्व से कोई लेना-देना नहीं।

अमृता भूषण ने कहा कि नहीं महागठबंधन के लोगों को सुबह-शाम बस हिंदू ग्रंथ का अपमान और देश का अपमान करने के साथ-साथ अच्छा काम करने वालों के साथ गाली-गलौच कर मीडिया में बने रहना है। और इसके लिए वो लोग देश, हिंदुत्व, रामायण रामचरित्र मानस, भागवत गीता, हनुमान जी आदि किसी का भी अपमान कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *