नियोजित शिक्षकों को सरकार की चेतावनी, हड़ताल पर गए तो होगी सख्त कार्रवाई

पटना (जागता हिंदुस्तान) नियोजित शिक्षकों द्वारा विभिन्न मांगों को लेकर 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा को लेकर सरकार सख्त एक्शन के मूड में आ गई है। इस मामले को लेकर बिहार सरकार के पंचायती राज विभाग ने बाकायदा पत्र जारी कर हड़ताल पर जाने वाले शिक्षकों को आगाह किया है। पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के द्वारा 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल आरंभ करने एवं मैट्रिक परीक्षा में वीक्षण कार्य का बहिष्कार करने की सूचना प्राप्त हो रही है। इसमें लिखा गया किस संबंध में परामर्श दिया जाता है कि मैट्रिक परीक्षा की तिथि की घोषणा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा महीनों पहले की गई है। यह परीक्षा लाखों बच्चों के भविष्य से जुड़ी है। ऐसे में बीच में बहिष्कार असहयोग की बात सर्वथा अनुचित है। समय पर परीक्षा का आयोजन और परिणाम की घोषणा नहीं होने से उनका भविष्य प्रभावित होगा और बिहार के बच्चों का भविष्य से खिलवाड़ करने की अनुमति किसी को नहीं दी जा सकती। पत्र में हड़ताल पर जाने वाले नियोजित शिक्षकों को चेतावनी दी गई है कि जो शिक्षक शिक्षण कार्य और मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार करेंगे, उन्हें सेवा से अनाधिकृत अनुपस्थित मानते हुए उनके खिलाफ विधि सम्मत विभागीय/अनुशासनिक कार्रवाई करते हुए उन्हें सेवा से बर्खास्त किया जाए। इसके साथ ही कहा गया है कि कुछ शिक्षक संगठनों के नेता विद्यालय नहीं जाते हैं और शिक्षकों के बीच भय और अराजकता का माहौल उत्पन्न कर शैक्षणिक माहौल को बिगाड़ने में लगे रहते हैं। उनकी पहचान कर उनके विरुद्ध भी विधि सम्मत अनुशासनिक कार्रवाई करते हुए सेवा से बर्खास्त करने की कार्रवाई की जाए।

बता दें कि बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर 17 फरवरी से आयोजित अनिश्चितकालीन हड़ताल को लेकर सभी शिक्षक अडिग हैं। शिक्षक संगठनों के नेताओं ने कहा कि शिक्षा विभाग व सरकार के निलंबन व एफआइआर की धमकी से शिक्षक डरने वाले नहीं हैं। सभी शिक्षक 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। समन्वय समिति के जिला संयोजक प्रेम चंद्र ने बताया कि आदोलन को धारदार बनाने के लिए 13 सदस्यों की कोर कमेटी बनाई गई है। 15 फरवरी को सभी प्रखंड मुख्यालयों पर आदोलन के समर्थन में मशाल जुलूस निकाला जाएगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *