कोरोना से जंग में आगे आया NTPC, पटना जिला प्रशासन को दिया पर्सनल प्रोटेक्टिव गियर

पटना (जागता हिंदुस्तान) कोरोना वायरस से लड़ने के लिए और समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए विद्युत मंत्रालय की महारत्न कंपनी एनटीपीसी ने सोमवार को 10,000 डिस्पोजेबल ग्लव्स,5,000  हेड कवर, 4,000 थ्री लेयर मास्क आदि पर्सनल प्रोटेक्टिव गियर पटना जिला प्रशासन को दिए। केंद्रीय विद्युत् राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आरके सिंह के निर्देशानुसार एनटीपीसी के रिजनल एक्सक्यूटिव डायरेक्टर (ईस्ट-1) एस नरेंद्र ने डीएम कुमार रवि को हिंदी भवन स्थित उनके कार्यालय में सभी जीवनरक्षक सामग्री सौंपी। इसके अलावा 45 लीटर हैंड सैनिटाइजर भी पटना जिला प्रशासन को एनटीपीसी की ओर से मुहैया कराया गया है ।

इस अवसर पर एस नरेन्द्र ने बताया कि केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आरके सिंह के मार्गदर्शन में एनटीपीसी ईस्टर्न रीजन-1 कोरोनावायरस महामारी के प्रसार को रोकने के लिए और आम लोगों के लिए निर्बाध बिजली आपूर्ति दोनों क्षेत्रों में लगातार चुनौतीपूर्ण काम कर रही है। 

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एनटीपीसी ईस्टर्न रीजन-1 में आने वाले राज्य बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के सभी नौ स्टेशनों पर बडे़ पैमाने पर सैनिटाइजेशन का काम हो रहा है। 

ईस्ट- 1 के रीजनल एक्सक्यूटिव डायरेक्टर एस नरेंद्र ने यह भी बताया कि विद्युत् उत्पादन में लगे सभी कर्मियों को पूरी तरह सैनिटाइज कर और मास्क पहनकर ही काम पर आने दिया जा रहा है। परिसर में काम के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग सहित केंद्र सरकार एवं राज्य सरकारों के द्वारा निर्धारित सारे मानकों का पूरी तरह से पालन सुनिश्चित  किया जा रहा है।

उन्होंने यह भी बताया कि एनटीपीसी ईस्टर्न रीजन-1  ने कोरोना वायरस से लड़ने में अब तक विभिन्न मदों में  करीब 3 करोड़  की राशि खर्च की है जिसमें आवश्यक मेडिकल सामग्री जिसमें राज्य व जिला प्रशासन को पीपीई किट, सैनिटाइजर, मास्क, आवश्यक खादान्न आदि देने के साथ-साथ अपने सभी 9 स्टेशनों पर जरूरतमंदों के बीच आवश्यक खाद्य सामग्री का लगातार वितरण करना आदि भी शामिल है।  

इस दौरान जेनरल मैनेजर (एचआर) अरुण कुमार, डीजीएम (एचआर) ओंकार नाथ, मैनेजर (कॉरपोरेट कम्यूनिकेशन) विश्वनाथ चंदन सहित एनटीपीसी के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *