बिहार जनसंवाद की सफलता से सहमा विपक्ष, फैला रहा अफवाह- डॉ. संजय जायसवाल

पटना (जागता हिंदुस्तान) केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की बिहार में वर्चुअल रैली को लेकर विपक्षी दलों के मोहल्ले पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल ने पलटवार किया है। विपक्षी दलों को निशाने पर लेते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा “ चंद दिनों पहले अमित शाह जी के आयोजित हुए बिहार जनसंवाद की अभूतपूर्व सफलता ने विपक्षी दलों की नींदें उड़ा दी हैं. वैचारिक दरिद्रता के शिकार इन दलों को अब सूझ ही नहीं रहा है कि करें तो क्या करें. इसीलिए इन्होनें अब इस कार्यक्रम के बारे में भी बिना सिर-पैर की झूठी अफवाहों को फैलाना शुरू कर दिया है. इस कार्यक्रम के खिलाफ इनके तर्क इतने खोखले और हास्यास्पद हैं कि उन्हें सुन कर इनकी बुद्धि पर किसी भी पढ़े-लिखे इन्सान को तरस आएगा.

इनके हिसाब से इस कार्यक्रम में बेहिसाब पैसे खर्च हुए हैं, जबकि एक बच्चा भी यह बता सकता है कि फेसबुक और यूट्यूब के माध्यम से प्रसारित इस कार्यक्रम का खर्च, इनके युवराजों के एक महीने के ज़ेबखर्च के सामने भी नहीं ठहरने वाला. यह दल जान लें कि वह कितना भी थाली या छाती पीट लें, जनता को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला.”

डॉ. जायसवाल ने कहा “ झूठ बोलने को ही राजनीति समझने वाले इन दलों को वास्तव में पीड़ा इस बात की है कि जहाँ भाजपा के कार्यकर्ता कोरोना संकट में भी इतनी मेहनत कर रहे हैं, वहीं इनके नेता हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं. लॉकडाउन में शीर्ष नेतृत्व के एक आह्वान पर जिस तरह से भाजपा कार्यकर्ताओं ने जनसेवा के काम किए हैं, उससे यह दल पहले हीं बौखलाए हुए हैं और अब डिजिटल माध्यमों से की गयी इस नई क्रांतिकारी शुरुआत ने उन्हें अंदर तक सहमा दिया है.

इन अवसरवादी दलों को यह समझ में आ गया है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं के जोश, अनुशासन और पार्टी के प्रति समर्पण के आगे उनका संगठन कहीं नहीं ठहरता. इसके बावजूद इनकी बुद्धि अभी भी नहीं खुल रही है. इन्हें यह समझ ही नहीं आ रहा है कि कार्यकर्ता अपने नेताओं का ही अनुसरण करते हैं. जैसा बीज बोयेंगे, उन्हें वैसी ही फसल मिलेगी.”

भाजपा कार्यकर्ताओं की तारीफ़ करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने आगे कहा “ इस जनसंवाद कार्यक्रम को सफल बनाने में हमारी सोशल मीडिया व आईटी सेल और पूरे प्रदेश के कार्यकर्ताओं ने जिस अनुशासन और कार्यक्षमता का प्रदर्शन किया है, उसकी मिसाल मिलनी मुश्किल है. हमारे कार्यकर्ताओं ने प्रदेश से लेकर बूथ स्तर तक खुद से आगे बढ़कर अपने संसाधनों का उपयोग करते हुए इस वर्चुअल रैली को सफल बनाया. वास्तव में दुसरे दलों को झूठ और दुष्प्रचार की राजनीति से आगे बढ़ते हुए हमारे कार्यकर्ताओं से सीख लेनी चाहिए.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *