Corona Effect : राष्ट्रपति, पीएम और सांसदों के वेतन में कटौती, 2 साल के लिए रोकी गई सांसद निधि

पटना (जागता हिंदुस्तान) देश में जारी कोरोना महामारी के संकट और इसके खिलाफ प्रभावी लड़ाई को लेकर सोमवार केंद्रीय कैबिनेट की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में करो ना संघर्ष को लेकर कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। इसके तहत सांसद निधि के संचालन पर 2 वर्षों के लिए रोक को कैबिनेट में मंजूरी दी गई।

कैबिनेट की बैठक के बाद नई दिल्ली स्थित नेशनल मीडिया सेंटर में पत्रकारों को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा की देश में जारी कोरोना संकट को देखते हुए राष्ट्रपति प्रधानमंत्री और सभी सांसद 1 साल तक अपने वेतन में 30% तक की कटौती करेंगे। इसके अलावा सांसद निधि के संचालन को भी 2 साल के लिए रोकने का निर्णय लिया गया है। जावड़ेकर ने कहा कि सांसद निधि का पैसा भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में इस्तेमाल किया जाएगा। यह निर्णय 1 अप्रैल 2020 से लागू होगा। हालांकि सांसदों के पेंशन और भत्तों में कोई कटौती नहीं की जाएगी।

वहीं, लॉकडाउन को हटाने के सवाल पर जावड़ेकर ने कहा कि हम हर मिनट दुनिया की स्थिति पर नज़र रख रहे हैं। राष्ट्रहित में निर्णय लिया जाएगा। सही समय आने पर इस बारे में फैसला लिया जाएगा और आपलोगों को जानकारी दे दी जाएगी। अधिकारियों के कई समूह स्थिति का आंकलन कर रहे हैं।

बता दें कि देशभर में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार को जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक मरीजों की संख्या ने चार हजार का आंकड़ा पार कर लिया है। भारत में कोरोना से अबतक 109 लोगों की मौत हो चुकी है, 4067 लोग इससे संक्रमित जबकि 232 मरीज़ ठीक हो चुके हैं। वहीं, बीते 24 घंटों में 32 लोगों की मौत जबकि 693 नए मामले सामने आए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *