लोकतांत्रिक जनता दल के स्थापना दिवस पर बोले शरद यादव, पार्टी के गठन का उद्देश्य अभी भी अधूरा

पटना (जागता हिंदुस्तान) लोकतांत्रिक जनता दल के दूसरे स्थापना दिवस पर पार्टी के संरक्षक शरद यादव ने कहा कि, “आज लोकतांत्रिक जनता दल का स्थापना दिवस है जिसका मैं संरक्षक हूं। जब देश में संविधान और लोकतंत्र पर हमले ज्यादा हो गए थे तो उनके ख़िलाफ़ आवाज उठाने के उद्देश्य से इस पार्टी का गठन हुआ था। वह उद्देश्य अभी भी अधूरा है।”

वहीं लोजद के बिहार प्रदेश के मीडिया प्रभारी मनीष कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि इस वर्ष दल के शीर्ष नेतृत्व ने निर्णय लिया था कि स्थापना दिवस पर एक बड़ा सम्मेलन आयोजित किया जाय, लेकिन देश में फैली महामारी की वजह से इस कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया। उन्होंने कहा कि हम सकारात्मक समाजवादी राजनीति की दिशा में बढ़ते रहे हैं और रहेंगे। वर्तमान में हम सभी देशवासियों को कोविड-19 पर जीत हासिल करना है। सभी कार्यकर्ताओं से अनुरोध है कि ज्यादा से ज्यादा निशक्त, गरीब एवं जरूरतमंद को मदद करें।

साथ ही समाज में फैलाया जा रहा साम्प्रदायिक उन्माद को नियंत्रित करें एवं भाईचारे को कायम रखें। सभी देशवासियों के सुरक्षित एवं स्वस्थ रहने व जल्द इस संकट से उबरने की कामना करता हूँ। लोकतांत्रिक जनता दल के दूसरे स्थापना दिवस (18 मई) पर दल के सभी कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों को हार्दिक शुभकामनाएं।

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 से पहले शरद यादव ने लोकतांत्रिक जनता दल का राजद में विलय कर लालटेन थाम लिया था। शरद यादव राजेश किसी पर मधेपुरा से चुनाव भी लड़े लेकिन उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *