CORONA : सोनिया गांधी ने प्रदेश अध्यक्षों के साथ की VC, बिहार कांग्रेस के कार्यों को सराहा

पटना (जागता हिंदुस्तान) अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सभी प्रदेश अध्यक्षों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग कर राज्यों में कोरोना के ख़िलाफ़ लड़ाई में कॉंग्रेस की सहभागिता को लेकर जानकारी ली। उन्होंने बिहार कांग्रेस के कार्यों की सराहना करते हुये और मेहनत करने का निर्देश दिया।

वीडियो कांफ्रेंसिंग में बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने निम्नांकित बिंदुओं को सोनिया गांधी के समक्ष रखा-

  1. निर्देशानुसार एक राज्य स्तरीय तीन सदस्यीय को-ऑरडिनेशन कमिटी का गठन किया गया, जो कोविड-19 के ख़िलाफ़ हो रहे कार्यों के लिये AICC के साथ समन्वय स्थापित करे।
  2. जरुरतमंदों के लिये तीन नम्बरों के साथ एक हेल्प लाइन स्थापित किया गया, जहाँ लॉकडाउन के कारण संकट में फँसे लोग अपनी जरुरतों को बता सकें। अब तक इस हेल्पलाइन पर चौबीस राज्यों से लगभग पचास हज़ार से अधिक संकट में फँसे लोगों का सहायता के लिये कॉल आ चुकी है।
  3. इनमें से अबतक 30,000 से भी अधिक जरुरतमंदो को, जो अलग अलग राज्यों मे फँसे हैं को विभिन्न माध्यमों के द्वारा मदद पहुँचाया जा चुका है एवं अन्य के लिये प्रयास जारी है। इसमें बिहार रिसर्च विभाग नें अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
  4. हमें हमारे प्रदेश प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल, अजय कपूर एवं वीरेंद्र राठौड़ के अलावे अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के भी लोगों ने भी मदद की, जिनमें राजीव सातव, सचिन राव आदि प्रमुख हैं।
  5. रेकिट बेंकाईजर द्वारा अपनों सामाजिक सरोकार के अंतर्गत पाँच लाख डिटॉल साबुन बिहार कॉंग्रेस को उपलब्ध कराया गया जिसे ज़िला अध्यक्षों, विधायकों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से पूरे राज्य में ज़रूरतमंदों के बीच वितरित किया जा रहा है।
  6. बिहार कॉंग्रेस द्वारा रसद एवं दवा का भी नियमित रूप ज़रूरतमंदो के बीच वितरण किया जा रहा है।
  7. विधायकों एवं अन्य कांग्रेसी द्वारा भी अपनी क्षमता के अनुसार अपने अपनें क्षेत्रों एवं जिलों में राहत कार्य चलाया जा रहा है। इनमें पटना, गया , मधुबनी, दरभंगा , बेगूसराय, समस्तिपूर, मोतिहारी, सीतामढ़ी , आदि प्रमुख हैं।
  8. एक सोलह सूत्रीय मॉंगों के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ज्ञापन सौंपा गया, तथा उसकी प्रति मीडिया को भी दी गई।
  9. नियमित रूप से बिहार कॉंग्रेस यह प्रयास कर रही है कि मीडिया के माध्यम से सरकार एवं प्रशासन पर लगातार दबाव बनाया जा सके। इसमें हम काफ़ी हद तक सफल भी हुये हैं।
  10. डेली गेट एवं डीजी मैनेजर नाम से बिहार रिसर्च विभाग वें एक एप्प डेवलप किया है, जिससे ज़रूरतमंदो एवं कॉंग्रेस कार्यकर्ताओं को आपस में जोड़ा जा सके।
  11. जिला एवं प्रखंड स्तर पर भी कंट्रोल रूम बनाया गया है, जिसकी सूची AICC को भेजी जा चुकी है।
  12. हर स्तर पर WhatsApp ग्रुप को भी बनाया गया है, जिससे सूचनाओं का समय पर आदान प्रदान हो सके।
  13. विपक्ष तो सरकार को मदद कर रही है, लेकिन सरकार विपक्ष को साथ लेकर नहीं चल रही।
  14. हमारा जन सेवा का प्रयास जारी रहेगा।

मदन मोहन झा ने कहा कि हमें जितनी उम्मीद थी, उससे कही अधिक कांग्रेसी जनों से सहयोग मिल रहा है। इनमें महिला एंव कांग्रेस समेत रिसर्च विभाग और एनएसयूआई शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *