मानसिक तौर पर लड़खड़ाए एवं डगमगाए हुए हैं तेजस्वी यादव- अंजुम आरा

पटना (जागता हिंदुस्तान) बिहार में कोरोना जांच की संख्या को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव द्वारा मुख्यमंत्री नीतीश को संभल जाने की हिदायत देने के बयान पर जदयू ने पलटवार किया है।

जदयू की प्रदेश प्रवक्ता अंजुम आरा ने कहा है कि, “नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जी, संभलने की आवश्यकता आपको है, क्योंकि आप मानसिक तौर पर लड़खड़ाए एवं डगमगाए हुए हैं। आपके वक्तव्य से यह बिल्कुल स्पष्ट है, इस वैश्विक आपदा की घड़ी में आपको सिर्फ चुनाव एवं वोटों की ही चिंता है, जो कि बहुत ही शर्मनाक है।  आप राजनीतिक अवसाद से गुजर रहे हैं जिस कारण आपको मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली बिहार सरकार के कार्यों कि समझ नहीं हो पा रही है।

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि, “आप 5000 कोरोना जांच प्रतिदिन की बात कह रहे हैं, जबकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने विभाग एवं संबंधित अधिकारियों को प्रतिदिन कम से कम 10,000 कोरोना जाँँच करने का निर्देश दिया है लेकिन आपको अपनी निष्क्रियता के कारण जानकारी का अभाव है।”

उन्होंने आगे कहा कि, “नेता प्रतिपक्ष के दायित्व का आपने निर्वहन नहीं किया, 50 दिनों तक स्वयं प्रवासी बने रहें। पूरा विश्व कोरोना वायरस से लड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ आप बिहार की जनता के बीच में निराशा वायरस फैला रहे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के लोगों के लिए संवेदनशील हैं, सतर्क भी हैं और सजग भी। बिहार सरकार हरसंभव सफल प्रयास कर रही है। आप बतौर नेता प्रतिपक्ष अपने नैतिक एवं संवैधानिक दायित्व का कृपया कर निर्वहन करें।”

बता दें कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा है कि, “दो महीने से विनम्रतापूर्वक बिहार सरकार को हम सुझाव दे रहे है, आग्रह और सचेत कर रहे है कि बिहार में कोरोना जाँच की रफ़्तार सबसे कम है।शुरुआती दौर में इसे 5000 जाँच प्रतिदिन किया जाए, बाद में बढ़ाया जाए लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं। बस इन्हें चुनावों की चिंता है। अभी भी संभल जाइए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *