आपदा की घड़ी में तुकबंदी छोड़ अपने दायित्वों का सकारात्मक निर्वहन करें तेजस्वी यादव- अंजुम आरा

पटना (जागता हिंदुस्तान) प्रवासी मजदूरों को लेकर नीतीश सरकार पर हमलावर नेता प्रतिपक्ष यादव समेत विपक्ष को जदयू ने तुकबंदी छोड़ अपने दायित्वों का निर्वहन करने की सलाह दी है। जदयू के प्रदेश प्रवक्ता अंजुम आरा ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा है कि बिहार के जिस गौरव और आत्मविश्वास को आप लोगों ने ध्वस्त कर दिया था उसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने न्याय के साथ विकास एवं पारदर्शिता के साथ काम करते हुए लौटाया है।

उन्होंने कहा है कि आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कुशल नेतृत्व में कोरोना आपदा का सामना करने के लिए बिहार की तमाम जनता मजबूती से उनके साथ खड़ी है। आज इस विपत्ति में भी नीतीश कुमार के सशक्त एवं व्यवस्थित कुशल प्रबंधन के कारण ही राज्य में कोरोना संक्रमण रिकवरी रेट 50 प्रतिशत है।

जदयू प्रवक्ता में कहा कि बाहर फंसे प्रवासी बिहारियों की कुशल वापसी जारी है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में प्रवासी बिहार पहुंच रहे हैं, जिसके लिए बिहार सरकार तत्पर एवं सजग है। जाँच क्षमता प्रतिदिन दस हजार तक बढ़ाने एवं स्किल मैपिंग के अनुसार रोजगार निर्माण इकाई की स्थापना का निर्देश दिया गया है। रोजगार हेतु 3.48 लाख योजनाओं में 1 करोड़ 77 लाख 40 हजार मानव दिवस सृजित किया गया है। साथ ही साथ प्रखंडों के क्वॉरेंटाइन केंद्रो में 1 लाख 54 हजार 209 लोग आवासित हैं, जिनका स्वास्थ्य परीक्षण, भोजन, आवासन एवं अन्य सुविधाओं को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की निरंतर समीक्षा बैठक जारी है।

अंजुम आरा ने तेजस्वी यादव को संबोधित करते हुए आगे कहा कि यह तुकबंदी करने का वक्त नहीं है। आपलोगों की सरकार को बिहार की जनता असफल सरकार के रूप में याद करती है । आप हर मुश्किल घड़ी में बिहार के जनता के बीच में ना होकर प्रवासी बन जाते हैं, कहीं बिहार की जनता आपको अयोग्य विपक्ष न घोषित कर दें। इसलिए आग्रह है कि इस आपदा की घडी मे तुकबंदी छोड अपने नैतिक एवं संवैधानिक दायित्वों का सकारात्मक रूप में निर्वहन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *