Lockdown : कालाबाजारी करने वालों की खैर नहीं, जिला प्रशासन ने जारी किया Helpline No.

पटना (जागता हिंदुस्तान) जिलाधिकारी कुमार रवि ने लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने तथा आवश्यक एवं अनिवार्य सेवाओं की सुचारू एवं सुदृढ़ व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। इसके लिए जिलाधिकारी ने संबंधित प्रशासनिक एवं पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक कर मंडियों , गोदामों, आटा मिलों आदि को खुलवाने तथा इन कार्यों से जुड़े वाहनों एवं कर्मियों को पास निर्गत करनेवाले प्राधिकृत अधिकारियों को पास सुनिश्चित करने का निर्देश दिया ताकि उपभोक्ताओं को दैनिक उपयोग की वस्तुओं विशेषकर खाद्य सामग्री की किल्लत ना हो तथा सुगम रूप से उचित मूल्य पर उपभोक्ताओं को आवश्यक खाद्य सामग्री मिल सके।

उन्होंने थोक विक्रेता, फुटकर विक्रेता के खाद्य आपूर्ति कार्य में लगे वाहनों को नहीं रोकने तथा वैसे वाहनों पर आवश्यक सेवा संबंधी स्टीकर चिपकाने का निर्देश दिया। इस क्रम में जिलाधिकारी ने बिग बाजार,बिग बास्केट, विशाल मेगा मार्ट सहित कई कंपनियों द्वारा खाद्य सामग्री के होम डिलीवरी वाहन को फ्रेजर रोड से रवाना किया। उन्होंने मारूफगंज ,दीदारगंज मंडी, मीठापुर बाजार समिति मंडी तथा फतुहा , संपतचक, बाईपास ,जीरो माइल ,दानापुर आदि जगहों पर गोदाम को खुलवाने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया। साथ ही फल ,सब्जी, आटा, दवा, पशुचारा आदि की सुचारू व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु समन्वय स्थापित करने का निर्देश दिया। खाद्य आपूर्ति के सुचारू एवं निर्बाध व्यवस्था हेतु आपूर्ति क्राइसिस मैनेजमेंट सेल बनाए गए हैं।

इसके अतिरिक्त खाद्य पदार्थों के आपूर्ति की कालाबाजारी पर नियंत्रण हेतु हेल्पलाइन नंबर 0612-2249964 तथा स्वास्थ्य विभाग के लिए कोरोना कंट्रोल हेतु पटना जिला का कॉल सेंटर 0612-2218242 है। कोई भी व्यक्ति इन नंबरों पर आवश्यक सूचना का आदान प्रदान कर सकता है। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु गठित 12 कोषांगों के अधिकारियों के साथ प्रगति की समीक्षा की गई तथा प्रत्येक पदाधिकारी को अपने अपने दायित्व का जिम्मेदारी से निर्वहन करने तथा प्रतिदिन प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने होम क्वेरेंटाईन का सर्वे करके सूची बनाने का निर्देश दिया है साथ ही पंचायत वार स्कूलों की सूची तैयार करने एवं होम क्वेरेंटाइन मैं 10 व्यक्तियों की सूची भी तैयार करने का निर्देश दिया है। उन्होंने पंचायत कार्यालय में मुखिया की अध्यक्षता में आशा एएनएम आंगनवाड़ी सेविका सहायिका पंचायत प्रतिनिधियों के साथ बैठक करने तथा उनके बीच कार्य एवं दायित्व का निर्धारण कर जवाबदेही तय करने का निर्देश दिया एवं उन्हें होम क्वेरेंटाइन के व्यक्तियों का सत्यापन करने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *